LEARN ABOUT BLOGGING

Google Ads

Wednesday, December 12, 2018

Qualities of Lawyers In Hindi



Qualities of Lawyers In Hindi


हेलो दोस्तो आज हम बात करने वाले हैं  वकीलों के गुणों के बारे में ( Qualities of Lawyers) के बारे में ।

वकील कौन होता है ?

वकील से तात्पर्य ऐसे व्यक्ति से है जो अन्य व्यक्ति की ओर से पैरवी करता है न्यायालयों में वकील अपने अपने पक्षों की ओर से पैरवी करते हैं और उन्हें विजय बनाने के लिए कड़े परिश्रम करते हैं तथा ऐसे करने के लिए  फीस लेते हैं ।

साधारण शब्दों में - वकील वह इंसान है जो अपने ज्ञान के आधार पर न्यायालय में न्यायाधीश के सामने किसी दूसरे व्यक्ति के लिए पैरवी करता है  तथा इस कार्य के लिए वह उस दूसरे व्यक्ति से अपना पारिश्रमिक लेता है ।

Qualities of Lawyers In Hindi
Qualities of Lawyers In Hindi



सफल और कुशल वकील के गुण - वकालत का पेशा आरंभ से ही बौद्धिक और नैतिक व्यवसाय माना जाता रहा है वकीलों को समाज में उचित सम्मान मिलता रहा है वकीलों को न्याय प्रशासन की धुरी माना जाता है क्योंकि वकील वादकारियो के मामले को न्यायालय के माध्यम से निपटाते है और वादकारियो के अधिकारों के संरक्षण में सहायता करते हैं न्याय प्रशासन में वकीलों के योगदान को और भी अधिक महत्त्वपूर्ण बनाया जा रहा है बशर्ते कि वकील सभी दृष्टि से निपुण और कुशल हो ।

जस्टिस अवोटमेरी के अनुसार - एक वकील में सफलता पाने के लिए इमानदारी, साहस, परिश्रम, विनोदी, कुशलता, निर्णय, और अधि-सदस्यता के गुण होने चाहिए इन के अभाव में वकील विधि व्यवसाय में सफलता प्राप्त नहीं कर सकता । 

वकीलों की विशेषताएं - प्रायः वकीलों के अंदर कुछ विशेष प्रकार के गुण विद्यमान होने चाहिए अगर किसी वकील के अंदर इन गुणों का अभाव है तो वह एक सफल और कुशल वकील नहीं बन सकता सफल और कुशल वकील बनने के लिए कुछ महत्वपूर्ण विशेषताएं सभी वकीलों के अंदर होनी चाहिए जो इस प्रकार है

1. ईमानदारी - इमानदारी एक सफल वकील का प्रमुख कौन है।

2. मनोवैज्ञानिक - मनोवैज्ञानिक वकील को मनोवैज्ञानिक होना चाहिए ।

3. गहन अध्ययन - एक वकील के लिए विधि का ज्ञान और विधी का अध्ययन करना प्रथम तथा महत्वपूर्ण कार्य है तथा प्रत्येक वकील को विधि का पूर्ण ज्ञान होना चाहिये।

4. कठोर परिश्रम वकील को एक कठोर परिसर में भी होना चाहिए।

( कई बार कठिन परिश्रम करके ही पुख्ता सबूत हासिल किए जाते हैं )

5. साहस - साहस वकील का प्रमुख गुण है ।

6. सरल और नरम स्वभाव -  वकीलों को अपने स्वभाव में हमेशा नम्रता और और सरलता का परिचय देना चाहिए जो वकील जितना अधिक नम्र होगा न्यायालय उससे उतना ही प्रभावित होगा। 

7. अभिव्यक्ति की कला - वकीलों में किसी बात को व्यक्त करने की चतुरता होनी आवश्यक है न्यायालय में अपनी बात को सुंदर भाषा में और प्रभावी रूप से व्यक्त करने वाला वकील ही सफलता प्राप्त कर सकता है।


अगर आपको पोस्ट अच्छा लगा हो या आपके काम का हो तो या आपको कोई हेल्प लेनी होतो आप हमे निचे दिए गए लिंक्स पर फॉलो करके हमसे अपना सवाल पूछ सकते है  

No comments:

Post a Comment